बलिया लाइव के तेजी से बढ़ते कदम - अब जहां की खबर चाहिये उस जगह टैप / क्लिक करें

पटना | छपरा | बलिया | गाजीपुर | वाराणसी | इलाहाबाद | काठमांडू

न टीवी न अखबार, बस खांटी समाचार - आज की खबर अभी दे - बलिया LIVE

सिकंदरपुर -अफसाने को अंजाम तक न सही, खूबसूरत मोड़ तक पहुंचने की है छटपटाहट

बकौल साहिर लुधियानवी वो अफसाना जिसे अंजाम तक लाना न हो मुमकिन, उसे इक खूबसूरत मोड़ देकर छोड़ना अच्छा. ऐसे ही एक खूबसूरत मोड़

Read more

बांसडीह में बिसात बिछते ही शुरू हो चुका है शह-मात का खेल

सूबे के चुनावी महासंग्राम में बांसडीह विधान सभा क्षेत्र के पार्टियों तथा उम्मीदवारों के बनते-बिगड़ते समीकरण के बीच करीब-करीब अब उम्मीदवारों की स्थिति स्पष्ट हो चुकी है.

Read more

मेला दिलों का आता है, एक बार, आ के चला जाता है

द्वाबा की धरती पर धनुष यज्ञ मेला एक नहीं कई मायनों में खास है. इस मेले में न सिर्फ खरीदारी होती है, बल्कि कई युगल जोड़ों के वैवाहिक रिश्ते भी इस मेले में तय होते हैं.

Read more

बलिया में अपने घर के लिए बेघरों को करना पड़ सकता है लंबा इंतजार

शासन ने चालू वित्तीय वर्ष में पीएमएवाई योजना के तहत कुल 6079 गरीब परिवारों को आवास मुहैया कराने का लक्ष्य निर्धारित किया है. इसमें से सामान्य व पिछड़े वर्ग के लिए जहां 1139 आवास निर्धारित किए गए हैं, वहीं अनुसूचित जाति के लिए 3424 एवं अनुसूचित जनजाति के 728 परिवारों को छत मुहैया कराया जायेगा.

Read more

बलिया जिले के 57 हजार 882 परिवारों के पास अदद छत तक नहीं

रोटी, कपडा और मकान जैसी मूलभूत सुविधाओं से आज भी हजारों परिवार वंचित और महरूम है. इसका खुलासा प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सरकार द्वारा उपलब्ध कराई गई आवास विहीन गरीब परिवारों की सूची को देखने से पता चल रहा है. यह विडंबना नहीं तो और क्या है कि आजादी के इतने वर्षों बाद भी जनपद के कुल 57 हजार 882 परिवारों के पास अदद छत तक नहीं है.

Read more

भोजपुरी लोकधुन लहरों के राजहंस भिखारी ठाकुर

असीमीत जमीनी जानकारी, सपाट शैली व अलौकिक इल्म ने तब के ‘लोकगायक’ भिखारी ठाकुर को अंतर्राष्ट्रीय उंचाई दी. अति सामान्य इस व्यक्ति की लोक समझ, शोध प्रबंधों का साधन बन गई. भोजपुरी के प्रतीक भिखारी ठाकुर अपनी प्रासंगिक रचनाधर्मिता के कारण भारतीय लोक साहित्य में ही नहीं, सात समुंदर पार मारीशस, फीजी, सूरीनाम जैसे देशों में भी अत्यंत लोकप्रिय हैं.

Read more

ब्राहमण उत्थान समिति की कार्यकारिणी का चुनाव 18 को

ब्राहमण उत्थान समिति, जनपद बलिया की एक आवश्यक बैठक 18 दिसम्बर रविवार को पूर्वान्ह 11 बजे चलता पुस्तकालय टाउन हाल में आयोजित की गई है, जिसमें कार्यकारिणी का चुनाव होना प्रस्तावित है. सभी सम्मानित सदस्यों से अनुरोध है कि उक्त तिथि पर समय से उपस्थित होकर चुनाव में भागीदारी करना सुनिश्चित करें. उक्त आशय की जानकारी डॉ. शत्रुघ्न पांडेय, ब्राहमण उत्थान समिति ने दी है.

Read more

घुरहुआ करेजा पीट- पीट के रो रहा है

घुरहुआ करेजा पीट- पीट के रो रहा है. मुखिया जी ने चूतिया बनाया है. अगला चुनाव में इनकरा के छठी के दूध न याद दिला द कहिहें. बड़ा नीच है, हमके फंसा दिया और लल्लन की दुआरी पर हेंकड़ी झाड़ रहा था कि घुरहुआ के खूबे बुरबक बनाये है. अकेले में भेंटा जाई त डीह बाबा के किरिया मरबो करब सरऊ के. चार अक्षर पढ़ का लिहलन, अपना के तुलसी बाबा के दमाद बुझने लगे.

Read more

बक्सर का लिट्टी चोखा मेला कल से

पंचकोशी परिक्रमा सह पंचकोश मेला इस माह की उन्नीस तारीख से प्रारंभ हो रहा है. जिसका शुभारंभ शनिवार को अहिरौली से होगा. विश्व विख्यात बक्सर के इस मेले को लोग लिट्टी-चोखा मेला के नाम से जानते हैं. यह मेला अब बक्सर जिले की पहचान बन चुका है. अन्य प्रदेशों और जिलों में बसे लोग इस तिथि को हर दम याद रखते हैं.

Read more

यहीं भगवान श्रीराम ने किया था अहिल्या का उद्धार

अपने देश में तीन स्थानों पर स्नान और मेला एक ही समय कार्तिक पूर्णिमा के दिन दिन शुरू होता है. वह है बिहार का सोनपुर, बलिया का ददरी मेला और छपरा (बिहार) का ही कोनिया मेला. आप सोनपुर और ददरी मेला के विषय में तो बहुत कुछ जानते होंगे, किंतु छपरा जिला मुख्यालय से महज दस किमी की दूरी पर स्थित पैराणिक गोदना, वर्तमान में रिविलगंज, के विषय में कम जानते होंगे.

Read more
BalliaLive.in is an initiative of Display Media Network.