Sun. Jul 21st, 2019

बलिया LIVE

Ballia News in Hindi,Latest-Breaking News on Crime, Politics & more

दूल्हे ने कर दी उटपटांग हरकत, बिन दुल्हन बैरंग लौटी बरात

1 min read
दूल्हे की हैरतअंगेज गतिविधियों को देख भड़की दुल्हन ने आखिरकार शादी से इन्कार कर दिया. काफी मान-मनौवल के बावजूद दुल्हन के राजी नहीं होने पर बरात बैरंग लौट गई. मंगलवार को पूरे क्षेत्र में यह घटना चर्चा का विषय बनी रही.

बलिया। दूल्हे की हैरतअंगेज गतिविधियों को देख भड़की दुल्हन ने आखिरकार शादी से इन्कार कर दिया. काफी मान-मनौवल के बावजूद दुल्हन के राजी नहीं होने पर बरात बैरंग लौट गई. मंगलवार को पूरे क्षेत्र में यह घटना चर्चा का विषय बनी रही.

दोकटी थाना क्षेत्र के एक गांव की लड़की की शादी सहतवार थाना क्षेत्र के निवासी से तय हुई थी. तिलक आदि की रस्म पूरी कर सोमवार को बरात भी दुल्हन के घर पहुंच गई. बरसात के कारण जनवासे में ही नाश्ता आदि कराकर बरात ठहरी. द्वारपूजा व गुरहत्थी का कार्यक्रम संपन्न होने के बाद लड़का रात लगभग 11 बजे विवाह के लिए मंडप में पहुंचा. वहां गांव घर की लड़कियों ने आरती उतारी तथा आरती में पैसे डालने के लिए बोली, जिस पर दूल्हे के साथ गए रिश्तेदार ने 500 रुपये डालने को दिया. दूल्हा उसे आरती के दीपक पर ही रख दिया, जिससे वह जल गया.

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि दूल्हे को मिठाई खाने को कहते ही उसने थाली में रखे सभी रसगुल्ले खाकर अपने शेरवानी में ही हाथ पोछ लिया. यह देख महिलाओं में कानाफूंसी होने लगी. लड़की की मां ने दूल्हे से जमीन पर लटक रहे गमछे को ठीक करने को कहा. जवाब में दूल्हे ने अपशब्दों का प्रयोग कर दिया. यह सब सुनकर दुल्हन नाराज हो गई और साफ तौर पर शादी से इन्कार कर दी. आधी रात तक मान-मनौवल व पंचायत होती रही, कितु दुल्हन जिद पर अड़ी रही और शादी करने को राजी नहीं हुई. फलस्वरूप बिना दुल्हन के ही बरात बैरंग लौट गई.
वर पक्ष ने मंगलवार की शाम दोकटी थाने में तहरीर दी. इसमें वर पक्ष ने कहा है कि गुरहत्थी में लगभग चार लाख के गहने और कपड़े चढ़ा देने के बाद लड़की के पिता, मां और भाई ने लड़के के छोटे भाई से शादी करने और ऐसा ना होने पर शादी नहीं करने की बात कही. वर पक्ष ने गहने आदि दिलाने और कार्रवाई करने की मांग की.

आपकी बात

Comments | Feedback

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!