सातवीं आर्थिक गणना पूरी तरीके से होगी पेपरलेस: बद्रीनाथ सिंह

सातवीं आर्थिक गणना पूरी तरीके से होगी पेपरलेस: बद्रीनाथ सिंह

कामन सर्विस सेंटर, गवर्नेंस सर्विसेज इंडिया लिमिटेड के एक दिवसीय प्रशिक्षण सम्पन्न
बलिया। सातवीं आर्थिक गणना-2019 का गणना कार्य एवं पर्यवेक्षकीय कार्य के सकुशल क्रियान्वयन हेतु कामन सर्विस सेंटर, गवर्नेंस सर्विसेज इंडिया लिमिटेड के जनपद स्तरीय समन्वयको के माध्यम से एक दिवसीय जनपद स्तरीय प्रशिक्षण कार्यशाला कलेक्ट्रेट सभागार में शुक्रवार को मुख्य विकास अधिकारी बद्रीनाथ सिंह द्वारा दीप प्रज्ज्वलित जलाकर उदघाटन किया गया.
सातवीं आर्थिक गणना हेतु प्रगणकों का परीक्षण देश के आर्थिक ढ़ाचे के गुण्यंकन हेतु प्रत्येक छह वर्ष पर होने वाले आर्थिक गणना इस माह से पूरे देश मे प्रारंभ होने जा रहा है. सातवीं आर्थिक गणना पूरी तरीके से पेपरलेस होगा. इस बार सीएससी के माध्यम से होगा. इसके लिए प्रत्येक सेंटर पर पाँच प्रगणकों को नियुक्त किया गया है. जनपद के कितने उद्योग स्थापित है उन उद्योगों से कितने लोग जुड़े है. कितनो के पास रोजगार है, और कितने बेरोजगार है. उसकी वास्तविक स्थिति जानकर भविष्य में उद्योगिकीय नीति तैयार करने हेतु आर्थिक गणना हो रही है. पूरे भारत मे इस माह से आर्थिक गणना का कार्य प्रारंभ होगा और पहली बार यह गणना पूरे तरीके से ऑनलाइन होगा. इसका इस्तेमाल कागज पर नहीं होगा.
केंद्रीय संखियिकीय मंत्रालय ने कॉमन सर्विस सेंटर सीएससी को ये जिम्मेदारी दी गयी है. इसके लिए शहर से लेकर ग्रामीण स्तर तक पर्यवेक्षक के साथ-साथ प्रगणकों को भी लगाया गया है, जिसमे प्रवेक्षको को ट्रेनिंग भी प्रदान किये. सीएससी के प्रोजेक्ट मैनेजर अविनाश मिश्रा ने बताया कि कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित ट्रेनिग कैम्प में आर्थिक गणना से जुड़े बिंदुओं पर प्रकाश डाला और एनएसएसओ अधिकारी रामदरश राम जी ने आर्थिक गणना किन-किन क्षेत्रों में गणना करना है विस्तार रूप से बताये. इस दौरान कॉमन सर्विस सेंटर के जिला प्रबंधक कौशलेन्द्र राय तथा जिला प्रबन्धक अजय कुमार दुबे ने बताया कि प्रगणक घर-घर जाकर परिवार एवं संचालित उधम, आर्थिक गतिविधियों का पता करेंगे, जो सूचनाएं प्राप्त होंगी वे पूरी तरीके से गोपनीय होगी. जिला अर्थ एव संख्याधिकारी और एनएसएसओ ने गणना के तकनीकी पहलुओं को समझाया.
इस अवसर पर जनपद के लगभग 234 वी.एल.ई. सुपरवाईजर, जिला समन्यवक अरविन्द शुक्ला, विकाश सिंह, विजय शुक्ला, अनूप सिंह, राजू कुमार, नौसाद अहेमद, रत्नाकर राय, हरेन्द्र सिंह ,पियूष सिंह, चंदन भारती जिसमे कॉमन सर्विस सेंटर सीएससी के स्टेट प्रोजेक्ट मैनेजर अविनाश मिश्रा, अर्थ एवं संख्याधिकारी विजय शंकर, एनएसएसओ के नोडल अधिकारी रामदरश राम, एडीआईओ हरिदेव जी तथा समस्त सदस्य जिला स्तरीय समिति डीएलसीसी सातवीं आर्थिक गणना तथा समस्त अपर संखियिकी अधिकारी नीरज कुमार, राजेश कुमार, हरेन्द्र यादव, आनंद कुमार चैरसिया, विजय प्रकाश वर्मा व अन्य सांख्यकीय अधिकारी उपस्थित रहे.

आपकी बात

Comments | Feedback

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!