बस स्टेशन चौराहे से जल्पा चौक तक ई-रिक्शा चालकों का बोलबाला

बस स्टेशन चौराहे से जल्पा चौक तक ई-रिक्शा चालकों का बोलबाला

सिकंदरपुर(बलिया)।
नगर के विभिन्न सड़कों पर बेतरतीब खड़े वाहन जाम को बढ़ावा दे रहे है. जिनमें सबसे अधिक ई-रिक्शा चालक हैं. जो सड़क के बीचो-बीच सवारियों को बैठाते हैं. इन पर पुलिस प्रशासन का डंडा तभी चलता है जब किसी बड़े अधिकारी या नेता का आगमन होता है. परंतु इसके पूर्व उनका अखंड राज्य रहता है.
नगर में जाम की समस्या का सबसे बड़ा कारण जगह-जगह आड़े तिरछे वाहनों को खड़ा कर सवारी भरना है. इन वाहनों में सबसे अधिक ई रिक्शा, जीप, ऑटो आदि है. सवारी की लालच में ने इन्हें यातायात व्यवस्था नहीं दिखाई देती. वह अपनी मनमानी से बाज नहीं आते. यही से शुरू हुआ जाम धीरे-धीरे पूरे नगर को अपनी गिरफ्त में ले लेता है. जबकि प्रशासन द्वारा वाहन पड़ाव को नगर के बाहर कर दिया गया है. बावजूद इसके वह नगर के अंदर घुस आते हैं.
बानगी के तौर पर देखा जाए तो बस स्टेशन चुनाव चौराहे से जल्पा चौक तक जाने के लिए ई-रिक्शा चालकों की लंबी-लंबी कतारें लगी होती है. कभी-कभी तो स्थिति ऐसी हो जाती है की बड़ी दुर्घटना या किसी बड़े हादसे घटित होने से बचते हैं. यदि अंदर जाने वाले ई-रिक्शा चालकों को मानिटरिंग किया जाए तो जाम से छुटकारा मिलना आसान हो सकता है. जिससे यातायात की व्यवस्था अपने पुराने ढर्रे पर फिर से आ सकती है.

आपकी बात

Comments | Feedback

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!