बेटी से छेड़खानी का विरोध करने पर पिता की हत्या, भीड़ वीडियो बनाती रही

बेटी से छेड़खानी का विरोध करने पर पिता की हत्या, भीड़ वीडियो बनाती रही

नई दिल्ली। पश्चिमी दिल्ली के बसईदारापुर गांव में छेड़खानी का विरोध करने पर हत्या के मामले में एक शर्मनाक पहलू सामने आया है. पीड़ित पक्ष के एक रिश्तेदार ने आरोप लगाया कि जब युवती के पिता को आरोपित पक्ष चाकू से गोद रहा था, उस वक्त गली के अधिकांश लोग मदद की बजाय तमाशबीन बनकर वीडियो बना रहे थे. युवती के पिता के बाद आरोपित पक्ष युवती के भाई की भी हत्या कर देता, लेकिन संयोगवश युवती के चीखने पर रिश्तेदार ने घर से निकले और फिर उन्हें आता देख आरोपित पक्ष मौके से फरार हो गया.

युवती के परिजनों का कहना है कि आरोपित पक्ष पूरे परिवार के साथ युवती के पिता को मारने आया था. जब युवती का भाई अपने पिता को बचाने आया तब आरोपित पक्ष के दो लोग उसे झांसे में लेने के लिए मौका से भागने लगे. युवती के भाई ने इनका पीछा किया. युवती का भाई जब मौके पर आया तब उसने देखा कि पिता के ऊपर आरोपित परिवार, जिसमें भाग रहा एक युवक भी था, सभी मिलकर उसके पिता की पिटाई कर रहे हैं. इसी दौरान अचानक वहां मौजूद लोगों ने पिता व पुत्र पर चाकू से जोरदार हमला कर दिया. जब आरोपितों को लोगों को लगा कि युवती के कुछ रिश्तेदार उनकी ओर आ रहे हैं तब वे मौके से फरार हो गए.

इधर जब युवती के भाई को कुछ होश आया तो उन्होंने देखा कि उनके पिता जमीन पर बेसुध पड़े हैं. इसके बाद मामले की जानकारी पुलिस को दी गई. दोनों पिता पुत्र को लेकर अस्पताल ले जाया गया, जहां पिता को मृत घोषित कर दिया गया. आरोप है कि आरोपित परिवार का एक सदस्य पहले भी आपराधिक मामलों में शामिल रह चुका है. घटना के बाद से पीड़ित परिवार पूरी तरह सदमे में है. युवती के परिवार पिता की मौत के बाद अब युवती के अलावा इनकी एक बहन, मां और एक छोटा भाई है. दोनों बहनें नौकरी करती हैं. छोटा भाई डीयू में पढ़ता है.

Delhi: A man was stabbed to death by his neighbours after he objected to their lewd remarks&molestation attempts directed to his daughter in Basai Darapur under Moti Nagar police station limits on night of Sunday,12 May.His son was also stabbed&is admitted in hospital. 4 arrested

आपकी बात

Comments | Feedback

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!