बिहार के सीवान में ASI की हत्या, सुनसान जगह पर मिली लाश

बिहार के सीवान में ASI की हत्या, सुनसान जगह पर मिली लाश

सीवान। बक्सर जिले में सहायक अवर निरीक्षक के पद पर तैनात अवधेश कुमार चौधरी का शव पुलिस ने महाराजगंज थाने के तकीपुर गांव के चंवर से बुधवार की सुबह बरामद किया. मृत एएसआई के दोनों हाथ बने हुए थे. बताया जा रहा है कि प्रथमद्रष्टया देखने से प्रतीत हो रहा है कि एएसआई की हत्या गला दबा कर एवं पीट-पीट कर हत्या की गयी है.

घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि महाराजगंज थाने के तकीपुर गांव के चंवर से बुधवार की सुबह एक अधेड़ व्यक्ति का शव बरामद किया गया. सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिसकर्मी मृतक के गले में बिहार पुलिस का परिचय पत्र देख कर चौक गये. परिचय पत्र के आधार पर मृतक की पहचान भगवानपुर हाट थाने के सकरी निवासी जगन्नाथ चौधरी का पुत्र अवधेश कुमार चौधरी के रूप में की गयी है, जो बिहार के बक्सर जिले में सहायक अवर निरीक्षक के पद पर तैनात था. वह हाल ही में चुनाव करा कर अपने घर आया था. 

मृतक की पहचान पुलिस पदाधिकारी के रूप में होने के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया. घटना की जानकारी होने पर वरीय पुलिस पदाधिकारी घटनास्थल के लिए रवाना हो गये हैं. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल को भेज दिया है. पुलिस ने घटना की जानकारी मृत एएसआई के परिजनों को दे दी है. परिजनों के आने के बाद ही घटना के कारणों का पता चलने की बात कही जा रही है.

महाराजगंज थाने के प्रभारी अनिल कुमार मिश्रा ने बताया कि ग्रामीणों की सूचना के बाद पुलिस ने तक्कीपुर गांव से एक व्यक्ति का शव बरामद किया है, जिसकी पहचान बक्सर जिले के डुमरांव थाना में तैनात 47 वर्षीय एएसआई अवधेश कुमार चौधरी के रूप में की गई है.
एसएचओ मिश्रा के मुताबिक मृतक के सिर और शरीर पर गहरे जख्म और चोट के निशान पाए गए हैं. उन्होंने बताया कि मृतक भगवानपुर थाना क्षेत्र के सकरी बाजार इलाके के रहने वाले थे और वह छुट्टी पर अपने घर आए हुए थे.
थाना प्रभारी ने बताया कि एएसआई की हत्या के कारणों का अब तक पता नहीं चल पाया है. प्रथम दृष्टया आपसी विवाद में हत्या की आंशका जताई जा रही है. पुलिस को शक है कि हत्या करने के बाद शव को यहां फेंक दिया होगा. अब पुलिस हर एंगल से पूरे मामले की छानबीन कर रही है.

आपकी बात

Comments | Feedback

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!