सर्जिकल स्ट्राइल-2 की कामयाबी व जांबाज अभिनंदन की वापसी की सूचना पर बम बम बोल रहा है बलिया

सर्जिकल स्ट्राइल-2 की कामयाबी व जांबाज अभिनंदन की वापसी की सूचना पर बम बम बोल रहा है बलिया

बलिया। देश के बहादुर सैनिकों द्वारा पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइल-2 की खबर सुनकर बागी धरती खुशी से झूम उठी. कहीं ढोल नगाडा, कहीं अबीर गुलाल लगाकर तो कहीं मिठाईया बांटकर जश्न मनाया गया. अखिल भारतीय विकास संस्कृति साहित्य परिषद और साहित्य चेतना समाज शाखा बलिया के संयुक्त तत्वावधान में विकास संस्कृति के आनंदनगर कार्यालय पर खुशी का इजहार और अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करने के लिए सभा आयोजित हुई.

सभा के अध्यक्ष साहित्यकार डा. आदित्य कुमार अंशु ने अपने सम्बोधन में कहा कि मैं देश के जांबाज बहादुर सैनिकों के जज्बा को सलाम करता हूं. इनके हाथों देश पूरी तरह सुरक्षित है. साहित्यकार नवचंद्र तिवारी ने कहा कि हमारे सैनिकों ने 56 इंच के सीना को 96 इंच का कर दिया है, इसके लिए उनको सलाम करता हूं. साहित्यकार सुदेश्वर अनाम ने कहा कि पाकिस्तान को सन्निपात हो गया है वह बेहोशी की हालत में सर्जिकल स्ट्राइक-2 को मान भी रहा है नहीं भी मान रहा है. साहित्यकार डा. फतेहचंद बेचैन ने कहा कि हमारे जांबाज सैनिकों ने पुलवामा का करारा जवाब दिया है. 40 जवानों के बदले 200-300 आतंकियों को मौत की नींद सुला दिया.
जश्ने सभा में नंदजी नंदा, डा.सुनील कुमार ओझा, डा.दिनेश ठाकुर, अशहर खुर्शीद, रमेश मिश्र हंसमुख, हफीज मस्तान, राधिका तिवारी, राजेन्द्र प्रसाद विद्रोही, जितेन्द्र स्वाध्यायी, सूरज समदर्शी, अमावस यादव बेताब, अब्दुल कैश तारविद, अशोक कंचन, जमालपुरी आदि कवि, साहित्यकारों ने एक स्वर से देश के जांबाज बहादुर सैनिकों को सलाम किया और सर्जिकल स्ट्राइक-2 की सराहना करते हुए खुशी का इजहार किया. अध्यक्षता डा.आदित्यकुमार अंशु व संचालन साहित्यकार डा.फतेहचंद बेचैन ने किया.

आपकी बात

Comments | Feedback

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!