भाकपा माले द्वारा निकले  न्याय मार्च को नगर में प्रवेश के पूर्व ही पुलिस ने रोका 


सिकंदरपुर (बलिया। सिकंदरपुर  की घटना के न्यायिक जांच की मांग को लेकर भाकपा (माले) सहित संगठनों द्वारा यहां निकाले जाने वाले न्याय मार्च को नगर में प्रवेश के पूर्व ही पुलिस ने रोक दिया. 

माले, सीपीआई, एमएसयू, सीआईसी, स्वराज अभियान, गोंडवाना गणतंत्र पार्टी, रिहाई मंच व दूधिया संघ के नेताओं व कार्यकर्ताओं ने दोपहर में बालूपुर नहर मार्ग स्थित गांव किशोर चट्टी के समीप से न्याय मार्च निकाला. मार्च धीरे धीरे आगे बढ़ रहा था और वह जैसे ही आधा फर्लांग दूर पहुंचा कि थानाध्यक्ष अनिल प्रताप तिवारी को इसकी भनक लग गई. तत्काल उन्होंने चौकी प्रभारी देवेंद्र नाथ दुबे के साथ पहुंच मार्च को आगे बढ़ने से रोक दिया. इसके चलते पुलिस व नेताओं में तीखी नोकझोंक भी हो गई. बाद में नेताओं के आग्रह पर थानाध्यक्ष ने एसडीएम राजेश कुमार यादव व सीओ भगवान सहाय को सूचना दिया. सूचना मिलते ही दोनों अधिकारी तत्काल मौके पर पहुंच गए. जहां दोनों पक्षों के वार्ता और माले नेता श्रीराम चौधरी द्वारा मांगो से संबंधित चार सूत्रीय ज्ञापन एसडीएम को सौंपने के बाद मार्च को समाप्त कर दिया गया. ज्ञापन में लूट व आगजनी की न्यायिक जांच कराने, सभी दुकानदारों को मुआवजा देने, पीड़ित दुकानदारों का मुकदमा दर्ज करने व कानून व्यवस्था सुनिश्चित कर सौहार्द कायम करने की मांग की गई है. बलवंत सिंह, बसंत कुमार सिंह, केशव सिंह, लाल साहब, नियाज अहमद, लक्ष्मण यादव आदि थे.

सिकंदरपुर बलिया 12 अक्टूबर ।भारतीय स्टेट बैंक शाखा सिकंदरपुर में विगत दो दिनों से लिंक फेल  होने के कारण करोड़ों रुपए का लेन देन प्रभावित हुआ है। जिसके कारण बैंक के ग्राहकों की परेशानी बढ़ गई है ।वे 2 दिनों से लगातार बैंक से निराश होकर वापस लौट जा रहे हैं।

आपकी बात

Comments | Feedback


बलिया LIVE के इस कमेंट बॉक्स के SPONSOR हैं


You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *