​पीएमओ के बुलावे पर दिल्ली जा रही महिला प्रधान का सामान लूटा, विरोध पर ट्रेन से फेंका

बलिया। प्रधानमंत्री कार्यालय से देश के चुनिंदा ग्राम प्रधानों को नानाजी देशमुख के 100 वर्ष पूरे होने पर दिल्ली बुलाया गया था. जिसमें शामिल होने के लिए बलिया जनपद के रतसर गांव की प्रधान स्मृति सिंह भी दिल्ली जा रही थी.   प्रधान समृति सिंह 08 अक्टूबर को आनंद बिहार ट्रेन (भृगु एक्सप्रेस) से दिल्ली जा रही थी. वह अपने बर्थ पर आराम से सो रही थी. ज्ञानपुर आउटर पर अचानक बदमाश उनका गर्दन दबाने लगे. विरोध करने पर स्मृति सिंह को ट्रेन से बाहर फेंक दिया. जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गयी. इस बीच, उनका सभी सामान, मोबाइल, 40 हजार नकद व आवश्यक कागजात लेकर बदमाश गायब हो गया. यात्रियों ने किसी तरह चेन पूलिंग कर ट्रेन को रोककर घायल प्रधान को ट्रेन पर बैठाया. ट्रेन इलाहाबाद पहुंची तो प्रधान वहीं पर उतर कर जीआरपी को सूचना दी. मामले की जानकारी होते ही उनके परिवार के लोग रविवार की रात ही इलाहाबाद निकल गये. घायल प्रधान का इलाज इलाहाबाद में ही हुआ. इलाहाबाद से लौटी प्रधान स्मृति सिंह ने बताया कि  मुझे काफी चोटे आयी है. मेरे काफी प्रयास के बाद भी बदमाशों ने ना तो मेरा सामान छोड़ा और ना ही मैं सुरक्षित रह पायी. मुझे चलती ट्रेन से फेंक दिया गया. मैंने इसकी सूचना इलाहाबाद रेलवे स्टेशन पर पुलिस को देते हुए इस कृत्य में शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.

आपकी बात

Comments | Feedback

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *