सहतवार के EO को मनियर की जिम्मेदारी, SDM बांसडीह प्रशासक नियुक्त

शुक्रवार को नगर पंचायत मनियर का चार्ज भी ग्रहण कर लिए ईओ

बांसडीह (बलिया) से रविशंकर पांडेय

एक माह से रिक्त चल रहे मनियर नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी की जिम्मेदारी अब सहतवार ईओ राम बदन यादव संभालेंगे. मनियर नगर पंचायत की ईओ मणि मंजरी राय की मौत के बाद से यह पद रिक्त था. उधर मणि मंजरी राय प्रकरण में मुख्य आरोपी नगर पंचायत अध्यक्ष भीम गुप्ता को शासन ने फरार घोषित कर दिया है. उनकी जगह पर एसडीएम बांसडीह दुष्यन्त कुमार मौर्य को विशेष सचिव नगर विकास अनुभाग 1 संजय कुमार सिंह यादव के आदेश पर प्रशासक का कार्यभार सौंपा गया है.

ईओ राम बदन यादव

शुक्रवार को नगर पंचायत मनियर का चार्ज ग्रहण कर लिए ईओ राम बदन यादव. साथ ही नगर मौजूदा हालात से मातहत कर्मचारियों से वे वाकिफ भी हुए. बेपटरी हुई व्यवस्था को पटरी पर लाने का सांत्वना भी उन्होंने दिया. अब ईओ अपनी बातों पर कितना खरा उतरते है, यह तो भविष्य बताएगा.

ईओ ने बताया कि उनकी प्राथमिकता नगर की साफ सफाई को सुदृढ़ करना, बदहाल निर्माणाधीन कान्हा पशु आश्रय स्थल को पटरी पर लाना और नगर के जनमानस की भांवनाओ से रूबरू होना है.

कहा कि पहले विभागीय बैठक बाद सभासदों संग बैठक लेकर नगर के विकास कार्यों पर समीक्षा व नगर के प्रबुद्धजनों के साथ बैठक कर नगर की समस्यायों पर चर्चा की जाएगी. प्रदेश सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट नगर पंचायत में रखे गये आवारा पशुओ पर फोकस रहेगा. पशुओं को मौसमी फलों के निचोड़ को इकट्ठा कर खिलाया जाएगा.

जब यह पुछा गया कि ईओ की मौत के मामले में आरोपी दोनों बाबु भी फरार चल रहे है उनका कार्य कौन देखेगा? उन्होंने बताया कि सहतवार में बाबु का कार्य भार देख रहे सुरेश प्रसाद को अतिरिक्त जिम्मेदारी सौंपी गई है. साथ कम्प्यूटर आपरेटर का काम भानू देखेंगे.

उन्होन कहा कि सीडीओ बलिया विपिन जैन के निर्देश पर सहतवार के मॉडल की तरह काम किया जाएगा. नगर पंचायत कार्यालय में बाबु और कम्प्यूटर आपरेटर कक्ष सहित कई कक्षों में कुर्सियां फिलहाल खाली रही. अलग बने ईओ कक्ष भी खाली पड़ा रहा.

गौरतलब है कि बीते 6 जुलाई को ईओ मणि मंजरी राय ने बलिया कोतवाली स्थित आवास विकास कॉलोनी के अपने आवास में सुसाइड कर लिया था. मणिमंजरी के भाई विजयानन्द राय की तहरीर पर चेयरमैन भीम गुप्ता, ईओ सिकंदरपुर संजय राव, टैक्स लिपिक विनोद सिंह, कम्प्यूटर आपरेटर अखिलेश कुमार, चालक चंन्दन कुमार, ठेकेदार सहित अन्य को आरोपित बनाया गया है. ईओ की मौत के बाद से अधिशासी अधिकारी का पद खाली चल रहा था व नगर का विकास रूका हुआ है. ईओ की मौत के मामले चालक चंन्दन कुमार को पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है. शेष फरार चल रहे आरोपियों को पुलिस सरगर्मी से तलाश में लगी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.