News Desk July 1, 2020

बांसडीह से रविशंकर पांडेय

पेट्रोलियम उत्पादों की मूल्य वृद्धि के खिलाफ विभिन्न राजनीतिक, सामाजिक व स्वयंसेवी संगठनों के कार्यकर्ता लामबंद हो गए हैं. ये संगठन हर दिन सरकार के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद कर रहे हैं. पेट्रों पदार्थो की कीमतों में हो रही भारी वृद्धि के माध्यम से मोदी सरकार द्वारा जबरन वसूली को रोकने के संदर्भ में जिला कांग्रेस कमेटी के पूर्व जिलाध्यक्ष राघवेंद्र प्रताप सिंह के नेतृत्व में आज बांसडीह तहसील में धरना दिया गया. साथ ही उप जिलाधिकारी बांसडीह दुष्यंत कुमार मौर्य को ज्ञापन सौंपा गया.

इस मौके पर पूर्व जिलाध्यक्ष राघवेंद्र प्रताप सिंह, रिटायर्ड कमिश्नर विद्याशंकर पांडेय, हरिकेन्द्र सिंह, मुखिया पांडेय, मदन यादव, प्रमोद यादव, अभिजीत तिवारी, अनुभव तिवारी गोलू, अनिल यादव, जनार्दन वर्मा, धर्मात्मा सिंह, अभिजीत सिंह, सर्वनाथ सिंह, अभिषेक पाठक, आशीष कुमार, अनूप चौरसिया, आकाश सिंह, मोनू सिंह, निखिल कुमार, मंटू सिंह, प्रेम शंकर, गोपाल तिवारी, जयप्रकाश चौहान, चंदन चौरसिया, अक्षय लाल, पिंटू सिंह, धीरेंद्र मिश्र, अश्वशक्ति गांधी राकेश सिंह, रोशन तिवारी आदि लोग उपस्थित रहे.

गौरतलब है कि मंगलवार को बैरिया में सपाइयों ने भी शांति मार्च निकाला था. सपा कार्यकर्ताओं ने जिलाध्यक्ष राजमंगल यादव के नेतृत्व में तहसील पहुंचकर राज्यपाल को संबोधित आठ सूत्रीय मांगों का ज्ञापन उपजिलाधिकारी सुरेश पाल को सौंपा. इस खबर को विस्तार से पढ़ने के लिए यहां क्लिक या टैप करें. उधर, वामदलों ने भी सोमवार को देशव्यापी कार्यक्रम के तहत प्रदर्शन किया. वाम मोर्चा में शामिल कार्यकर्ताओं ने सीपीएम के जिला सचिव केशव सिंह आजाद, माले के केन्द्रीय कमेटी के सदस्य श्रीराम चौधरी तथा सीपीआई के जिला मंत्री सत्य प्रकाश सिंह के नेतृत्व में जिलाधिकारी कार्यालय का घेराव किया था.

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.