तो गाजीपुर-मांझी NH 31 के भी दिन फिरेंगे, मरम्मत का काम शुरू

गाजीपुर से मांझी तक एनएच-31 के सुदृढ़ीकरण का कार्य शुक्रवार को शुरू हो गया. एनएचआई के प्रोजेक्ट डायरेक्टर नवीन मिश्र की मौजूदगी में भाजपा जिला अध्यक्ष जयप्रकाश साहू और सांसद पुत्र विपुलेंद्र प्रताप सिंह ने नारियल फोड़कर तथा पूजन कर कार्य का विधिवत शुभारंभ किया.

बैरिया (बलिया) से वीरेंद्र नाथ मिश्र

गाजीपुर से मांझी तक एनएच-31 के सुदृढ़ीकरण का कार्य शुक्रवार को शुरू हो गया. एनएचआई के प्रोजेक्ट डायरेक्टर नवीन मिश्र की मौजूदगी में भाजपा जिला अध्यक्ष जयप्रकाश साहू और सांसद पुत्र विपुलेंद्र प्रताप सिंह ने नारियल फोड़कर तथा पूजन कर कार्य का विधिवत शुभारंभ किया.

इस मौके पर प्रोजेक्ट डायरेक्टर नवीन मिश्र ने बलिया लाइव संग विशेष बातचीत में बताया कि गाजीपुर रोजा चौराहा से बलिया जनपद के मांझी घाट सेतु तक (बिहार सीमा तक) सुदृढ़ीकरण का कार्य किया जाएगा. प्रथम चरण में माझी से बेलहरी तक सड़क पर बने गड्ढे मैं गिट्टी गिरा कर स्टोन डस्ट डालने का कार्य किया जाएगा. बरसात में यह कार्य सबसे अच्छी तरीके से होता है. इसलिए इसी कार्य से शुभारंभ हो रहा है.


मांझी से बेलहरी तक सड़क की स्थिति अच्छी नहीं है. इसलिए इस कार्य को प्राथमिकता के आधार पर कराया जा रहा है. 103 करोड़ 45 लाख 47 हजार 661 रुपये की लागत से यह कार्य होना है. मानसून प्रारंभ होने तथा दैनिक यात्रियों के सुरक्षा के दृष्टिगत मैसर्स कृष्णा इंफ्रास्ट्रक्चर के ठेकेदार को निर्देशित किया गया है कि सड़क पर बने गड्ढों के मरम्मती करण का कार्य तत्काल कराना सुनिश्चित करें. मानसून समाप्त होने के उपरांत ठेकेदार द्वारा सड़क के विशेष रखरखाव मरम्मती करण के कार्य को युद्ध स्तर पर करवाया जाएगा.

नवीन मिश्र, एनएचआई के प्रोजेक्ट डायरेक्टर


नवीन मिश्र ने कहा कि अगले 15 से 20 दिनों में सड़क पर बने गड्ढे को दुरुस्त कर दिया जाएगा. ताकि उक्त मार्ग से आने जाने वाले वाहनों व यात्रियों को किसी परेशानी का सामना न करना पड़े. इस अवसर पर अमिताभ उपाध्याय, पूर्व ब्लाक प्रमुख कन्हैया सिंह, राम प्रकाश सिंह, दुर्ग विजय सिंह झलन, रत्नेश सिंह, अश्वनी ओझा, सुशील पांडे, राजेश सिंह, बड़क सिंह, मंटू बिंद, शैलेश पासवान, रंजीत वर्मा आदि काफी संख्या में लोग मौजूद रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.