सैंड आर्ट पर उकेरा ” नमस्ते ट्रम्प , Welcome to India खरौनी के रूपेश ने

गरीब पिता के पुत्र रूपेश का घर देख अंदाजा लगाया जा सकता है. कलाकृतियों के जरिए कहां तक वह पहुंचेंगे, यह तो समय ही बताएगा.सबकी शुभकामनायें उसके साथ हैं.

  • गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में नाम दर्ज होने तक बने रहेंगे बाल-दाढ़ी

रविशंकर पाण्डेय

बांसडीह : भारत को गांवों का देश कहा जाता है. प्रतिभा की बात करें तो प्रतिभाएं आज भी गांवों में छुपी हुई हैं. जी हां एक तरफ जहां अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपनी पत्नी मेलानिया के साथ दो दिवसीय दौरे पर भारत आये हुए हैं.

वहीं काशी विद्यापीठ में अध्ययनरत छात्र ने बलिया जनपद के अपने पैतृक गांव में रेत पर अमेरिकी राष्ट्रपति और भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सहित ताजमहल का चित्र बनाकर अभिनन्दन किया है.

जिले के बांसडीह तहसील के खरौनी गांव में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, ताजमहल का सफेद बालू ( रेत ) पर चित्र रूपेश कुमार सिंह ने बनाया है. वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र व वाराणसी के काशी विद्यापीठ में अध्ययनरत छात्र रूपेश कुमार सिंह हैं.

यही नही हिंदी में ” नमस्ते ट्रम्प ” तो अंग्रेजी में “Welcome To India “लिखा है. रूपेश गरीब परिवार से जुड़कर अपनी कलाकृतियों से बिना किसी तस्वीर देखे चित्र बनाते दिखे. यह देखकर लोग स्तब्ध थे.

सेंड आर्ट्स के माध्यम से अमेरिकी राष्ट्रपति का जिला एवं प्रदेश की तरफ से रुपेश ने स्वागत किया है. रूपेश ने दाढ़ी- बाल शौकिया तौर पर नही रखा है. इनका एक ही उद्देश्य है कि वर्ल्ड रिकार्ड बनाकर देश का नाम रोशन करें.

जब तक मुकाम हासिल नहीं होगा, दाढ़ी- बाल वैसे ही रहेंगे.काशी विद्यापीठ में मास्टर ऑफ फाइन आर्ट्स की शिक्षा ग्रहण करते हुए रूपेश ने अपने जीवन का अलग उद्देश्य रखा है.

गरीब पिता के पुत्र रूपेश का घर देखकर खुद ही अंदाजा लगाया जा सकता है. ऐसे में गिनीज बुक में नाम दर्ज कैसे होगा.कलाकृतियों के माध्यम से कहां तक रूपेश पहुंचेंगे, यह तो समय ही बताएगा.सबकी शुभकामनायें उसके साथ हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.