भोजापुर गांव में फुड पॉयजनिंग से पिता-पुत्र की मौत, एक गंभीर

घर पर पिता और बाबा के शव देखकर सुनील पांडे की दूसरी बेटी निक्की की हालत बिगड़ गई. उसे पड़ोसी तुरंत सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सोनबरसा ले गए.

  • सुनील के दिल्ली और वाराणसी में रहे दोनों भाइयों और दिल्ली में पढ़ रहे बेटे को दे दी है सूचना

बैरिया : स्थानीय थाना क्षेत्र के भोजापुर गांव में बुधवार की रात फूड प्वाइजनिंग के शिकार पिता पुत्र की मौत हो गई है. इसी परिवार की एक किशोरी की हालत गंभीर है.

मिली जानकारी के अनुसार उक्त गांव निवासी केदार पांडे (75) के घर सुबह से ही खिचड़ी पर्व उत्साह से मनाया गया. परंपरागत ढंग से सुबह चूड़ा दही खाया. शाम को खिचड़ी बनी थी. शाम को सबसे पहले परिवार के मुखिया केदार पांडे खिचड़ी खाए और घर से थोड़ी दूरी पर अपने डेरा पर सोने चले गए.

इस बीच उनके 45 वर्षीय पुत्र सुनील पांडे भी खिचड़ी खाए. उनके बाद सुनील की बेटियों निधि (18), निक्की (15) तथा नीति (12) ने भी खाना शुरू किया. वे खा ही रहे थे कि डेरे पर से सूचना आई कि केदार पांडे की तबीयत खराब है. सभी लोग फौरन वहां पहुंचे.

पिता की हालत देख सुनील तुरंत गाड़ी मंगा कर इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सोनबरसा ले गए. चिकित्सकों ने उन्हें जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया. बलिया जाते समय दूबेछपरा के आसपास सुनील की भी हालत बिगड़ने लगी.

 

 

बताया गया कि दुबहड़ के आसपास केदार पांडे की मौत हो गई जबकि सदर हॉस्पिटल पहुंचते-पहुंचते सुनील पांडे की भी मौत हो गई.

इसी बीच इधर गांव में सुनील पाण्डेय की तीनों बेटियों की हालत खराब देख पड़ोसी उन्हें सीधे सदर अस्पताल ले गए. वहां से पिता-पुत्र के शव लेकर गांव लौटे.

दो लोगों की मौत और तीन की हालत खराब होने की खबर से गांव में कोहराम मच गया. परिवार का कोई भी जिम्मेदार पुरुष सदस्य यहां पर नहीं है. सिर्फ सुनील पांडे की पत्नी बेबी देवी, जो अफरा-तफरी में खिचड़ी नहीं खाई थी, गांव में उपस्थित है.

गांव में केदार पांडे के दरवाजे पर भारी भीड़ लगी है. सुबह करीब 7 बजे केदार पांडे की पत्नी तथा उनकी तीनों नातिन सुबह 7 बजे गांव पहुंची. केदार पांडे की पत्नी बलिया में अपनी बेटी के घर गयी थी. उधर तीनों नातिनें इलाज के बाद ठीक हो गयी थीं.

 

 

घर पर पिता और बाबा के शव देखकर सुनील पांडे की दूसरी बेटी निक्की की हालत बिगड़ गई. उसे पड़ोसी तुरंत सीएचसी सोनबरसा ले गए. पड़ोसी और इलाके के लोगों ने सुनील के भाई संतोष और पिंटू की सूचना दे दी. साथ ही दिल्ली में पढ़ रहे पुत्र वीरु को भी सूचित कर दिया गया है.

सूचना मिलने पर सभी गांव के लिए चल चुके हैं. मौके पर जुटी भीड़ में यह चर्चा रहा कि खिचड़ी में छिपकली गिर गई होगी. फूड प्वाइजनिंग की भी आशंका जतायी जो जांच का विषय है. सूचना मिलने पर करीब 11 बजे बैरिया के एसएचओ मौके पर पहुंचे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.