Central Desk December 22, 2019
रसड़ा: क्षेत्र के कोटवारी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र (पीएचसी) परिसर में अर्धनिर्मित आवास होने के कारण चिकित्सक और स्वास्थ्य कर्मी अस्पताल में नहीं रहते हैं. उनके न रहने से मरीजो को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ता है. कोटवारी में बने नये पीएचसी के साथ ही चिकित्सक और फार्मासिस्ट आवास भी बने हैं. किसी तरह आनन-फानन में पीएचसी का निर्माण कर विभाग को दे दिया गया. इसमें एक चिकित्सक और आठ कर्मचारी तैनात हैं.
हालांकि दोनों आवास बन कर तैयार है लेकिन किसी कक्ष में दरवाजा और खिड़की नहीं लगे हैं. उनमें बिजली सप्लाई की भी व्यवस्था नहीं है. लिहाजा उन आवासों में कर्मचारी नहीं रहते हैं. इस कारण मरीजो को काफी परेशानी झेलनी पड़ती हैं. निर्माण कार्य का जायजा लेने आयी लखनऊ की टीम भी बाहर की रंगाई पुताई देख कर ही क्लीन चिट दे दी. इस संबंध में इलाके के निवासियों ने सम्बंधित अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट कराते हुये निर्माण कार्य शीघ्र पुरा कराने की मांग की है.
मांग करने वालों में गुलाब चन्द वर्मा, विनोद कुमार सिंह, राजेश गुप्ता, दिनेश तिवारी, डॉ परवेज अहमद आदि शामिल हैं.

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.