Central Desk November 27, 2019

सिकंदरपुर : शिक्षा क्षेत्र नवानगर अन्तर्गत जूनियर हाईस्कूल के प्रांगण मे ब्लॉक स्तरीय बाल क्रीड़ा प्रतियोगिता आयोजित की गयी. इस दौरान जूनियर हाई स्कूल के विद्यार्थियों ने स्वागत गीत, पीटी और खो-खो प्रतियोगिता में भाग लिया.

प्रतियोगिता का उद्घाटन मुख्य अतिथि उपजिलाधिकारी सिकन्दरपुर अन्नपूर्णा गर्ग ने मां सरस्वती के चित्र पर फूल चढ़कर और दीप प्रज्ज्वलित कर किया. झंडारोहण के बाद प्रतिभागी टीमों ने मुख्य अतिथि को सलामी दी. जूनियर हाई स्कूल की छात्राओं ने स्वागत गीत प्रस्तुत किया. इसके बाद स्कूल के विद्यार्थियों ने पीटी, खो-खो खेल आदि प्रस्तुत किये.

इस दौरान मुख्य अतिथि ने कहा कि प्राथमिक और जूनियर हाई स्कूल में जितनी संभावनाएं हैं वह अन्य निजी विद्यालयों में नहीं है. उन्होंने कहा कि इन विद्यालयों के पढ़े-लिखे बच्चे बच्चियां आगे चलकर देश का नेतृत्व भी कर रहे हैं. मुख्य अतिथि ने प्रतियोगिता में शामिल सभी विद्यार्थियों और शिक्षक-शिक्षिकाओं को प्रोत्साहित भी किया.

खंड शिक्षा अधिकारी एसएन त्रिपाठी ने कहा कि ब्लॉक के विद्यार्थियों के प्रदर्शन से मुख्य अतिथि प्रसन्न हुई. उन्होंने कहा कि ब्लॉक स्तरीय क्रीड़ा प्रतियोगिता में नवानगर ब्लॉक के हरिपुर विद्यालय के छात्र का चयन मंडल स्तर पर हुआ है. इसके लिए उन्होंने उस विद्यालय के सभी अध्यापकों को को धन्यवाद दिया.

प्रतियोगिता मे शिक्षा क्षेत्र नवानगर अन्तर्गत दस न्याय पंचायतों से उच्च प्राथमिक वर्ग के 34 विद्यालय और प्राथमिक वर्ग के 122 विद्यालयों से कुल 460 विद्यार्थियों ने दौड़, रिले रेस, लंबी कूद, गोला फेंक, डिसकस थ्रो में भाग लिया. साथ ही सांस्कृतिक कार्यक्रमों मे समूह गान, लोकगीत, एकांकी और अंताक्षरी आदि प्रतियोगिताओं में भी भाग लिया.

इस मौके पर प्राथमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष सुशील कुमार, महामंत्री विनय यादव, राजु पांडे, शौहर हुसैन, विभूति नारायण, अनिल कुमार सिंह, विनय कुमार भारद्वाज, विनोद यादव, विरेन्द्र कुमार, सत्यनारायण पांडे, राम कुमार पांडे, अरुजेंद्र राय, विनोद सिंह, आशुतोष पाण्डेय, सियाराम, अशोक कुमार यादव, जहीर आलम अंसारी, चंद्र मिश्रा अमरनाथ यादव आदि भी मौजूद थे. अध्यक्षता जहीर आलम अंसारी और संचालन डॉ० मोहनकांत राय ने किया.

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.