Central Desk November 5, 2019
  • सिकन्दरपुर तहसील में सम्पूर्ण समाधान दिवस पर राजस्व और पुलिस को दिए निर्देश
  • टीम भावना के साथ काम कर जरूरतमंद को न्याय दिलाना हो प्राथमिकता

बलिया : जिलाधिकारी श्रीहरि प्रताप शाही की अध्यक्षता में सिकंदरपुर तहसील में संपूर्ण समाधान दिवस आयोजित किया गया. इसमें कुल 177 मामलों में 18 मामले मौके पर निपटाये गये. शेष शिकायतें संबंधित अधिकारियों को सौंप दी. उनका निर्देश था कि शिकायतों के निपटारे में गुणवत्ता और समय का ख्याल रखा जाए. इस दौरान अवैध कब्जे, राशन, पेंशन व जमीनी विवाद से मामले आये.

जनसुनवाई के बाद डीएम ने अधिकारियों और सभी कानूनगो-लेखपाल को सभी प्रकरणों में मौका मुआयना करने के बाद ही सही रिपोर्ट लगाने कहा. उन्होंने कहा कि रूटीन में होने वाले कार्य भी महीनों लम्बित होना आपत्तिजनक है. वहीं, तहसीलदार को अवैध कब्जे, अतिक्रमण जैसे मामलों को पुलिस और राजस्व की संयुक्त टीम बनाकर निपटाने का निर्देश दिया.

ऐसे मामलों को थानेवार सूचीबद्ध कर थाना समाधान दिवस पर अनिवार्य रूप से निपटा लिया जाए. उन्होंने कहा कि टीम भावना से काम कर लोगों को सही न्याय दिलाना हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए.

टाइपशुदा आख्या ही करें अपलोड

डीएम ने सभी अधिकारियों को आइजीआरएस पोर्टल पर निस्तारण आख्या 15 दिन के अंदर अपलोड करने का निर्देश दिया. उन्होंने आख्या टाइप कराकर ही अपलोड करने के लिए कहा. इस बात का विशेष ख्याल रखें कि कोई भी शिकायत डिफाल्टर को श्रेणी में नहीं जानी चाहिए.

दोबारा आयी शिकायतों पर दी सख्त हिदायत

इस दौरान कुछ शिकायतें दोबारा आईं. सार्वजनिक भूमि या चकरोड पर अवैध कब्जे की शिकायती पत्र देने के बावजूद समस्या बनी रहने की बात संज्ञान में आने पर डीएम सख्त दिखे. उन्होंने सख्त हिदायत दी कि शिकायतों का समय से गुणवत्तापरक समाधान कर लिया जाए. उन्होंने कहा कि जिसके स्तर पर शिकायत लंबित होगी उनकी जवाबदेही तय की जाएगी.

एसपी देवेंद्र नाथ ने पुलिस से जुड़ी शिकायतें सुनकर तुरंत समाधान के लिए मातहतों को कड़े निर्देश दिए. इस दौरान एसडीएम अन्नपूर्णा गर्ग, सीओ पवन कुमार सिंह, सीएमओ डॉ. प्रीतम मिश्रा, डीडीओ शशिमौलि मिश्रा, बीएसए शिवनारायण सिंह समेत जिला व तहसील स्तरीय अधिकारी मौजूद थे.

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.