Central Desk October 19, 2019

खगड़िया (बिहार): करोंड़ों की ठगी के मामले में एसडीपीओ आलोक रंजन काशी विश्वनाथ ज्वेलर्स के मालिक भास्कर गुप्ता समेत पांच लोगों की गिरफ्तारी के आदेश दिये हैं. गुप्ता पर सोना-चांदी के एक दर्जन व्यवसायियों से करोड़ों रुपये ठगने का आरोप है.

जिन पांच अन्य लोगों की गिरफ्तारी का आदेश है, उनमें भास्कर की पत्नी पूनम सिवासा,पुत्री, बहन संतोष और बनारस के तनवीर अहमद शामिल हैं. सदर एसडीपीओ आलोक रंजन ने मामले की समीक्षा के बाद गिरफ्तारी के आदेश दिए हैं.

बताते हैं कि भास्कर गुप्ता खगड़िया में काशी विश्वनाथ ज्वेलर्स की दुकान चलाता था और सागलमल चौक के पास एक मकान में रहता था. भास्कर ने सोना चांदी के व्यवसायियों की बीच अपनी साख जमा ली थी. व्यवसायियों से मोटी रकम के बदले सोना-चांदी सस्ते में देने का विश्वास दिया था.

इसमें उसके परिवार वाले भी शामिल थे. आरोपियों ने मिलकर शिवाजी ज्वेलर्स से 17.40 लाख, अशोक ज्वेलर्स से 6.90 लाख, शिखा ज्वेलर्स से 9 लाख ठग लिये. पोस्ट आफिस रोड के सतीश से 2.5 लाख समेत कई व्यवसायियों से करोड़ों ठगने के बाद भास्कर परिवार समेत खगड़िया से चला गया.

मामला तब सामने आया जब ठगी के शिकार व्यवसायियों ने नगर थाना पहुंचकर अपना हाल सुनाया. इस मामले में मेन रोड के मनोज दास के बयान पर भास्कर समेत उसकी पत्नी, पुत्री, मुजफ्फरपुर के बहनोई संतोष गुप्ता, बनारस के तनवीर समेत अन्य को नामजद करते हुए एफआइआर दर्ज कराया गया.

आरोप लगा कि आरोपितों ने योजनाबद्ध तरीके से व्यवसायियों का विश्वास जीतकर करोड़ों रुपये ठग लिये. पुलिस ने जालसाजी और अन्य धाराओं के तहत एफआइआर दर्ज किया. आरोपितों की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस ने डीआइजी से अनुमति ले ली है. न्यायालय से वारंट जारी करने के प्रयास में है.

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.