General Desk August 21, 2019

सैकड़ों एकड़ मक्का की फसल डूबी

दुबेछपरा(बलिया)। बैरिया तहसील अंतर्गत के केहरपुर व सूघर छपरा गांव तक गंगा के बाढ़ का पानी मंगलवार की रात 1:00 बजे के लगभग पहुंच गया. बाढ़ का पानी अब एनएच -31 पर भी दबाव बनाने लगा है. दुबेछपरा रिंग बंधा व सुघर छपरा केहरपुर गांव के बीच के सैकड़ों एकड़ में फैली मक्का की फसल पूरी तरह से जलमग्न हो गई है.

एक दिन पहले केहरपुर गांव में जिलाधिकारी बलिया व पुलिस अधीक्षक आकर निरीक्षण कर कर्मचारियों को निर्देश दे गए थे. इन गांवों को बाढ़ व कटान से बचाव के लिए कोई सरकारी योजना नहीं है. केहरपुर उच्च प्राथमिक विद्यालय के भवन का पिछला हिस्सा कटान के भेंट चढ़ गया है. रात में ही पानी गांव के चारों तरफ फैल गया. रास्तों पर भी पानी है. गांव के लोग अपना सामान लेकर सुरक्षित स्थानों की ओर जाने लगे हैं. बुधवार को दोपहर गंगा के बाढ़ का पानी 2 सेमी प्रति घंटे के हिसाब से बढ़ाव पर था. गायघाट में खतरे का बिन्दु 57.61 मीटर है. जबकि 2:00 बजे तक के लगभग खतरे के निशान के ऊपर 58. 6 मीटर पर दर्ज किया गया.

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.