News Desk August 9, 2019

पटना। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा जम्‍मू – कश्‍मीर से अनुच्छेद 370 और 35 ए हटाये जाने पर देशभर में खुशी का माहौल है. ऐसे में मिस जम्‍मू रह चुकीं भोजपुरी अभिनेत्री अनारा गुप्‍ता ने आज पटना में अपनी खुशी का इजहार किया और कहा कि अनुच्छेद 370 और 35 ए की वजह से जम्‍मू – कश्‍मीर विकास की मुख्‍य धारा से दूर था, लेकिन अब इसके हटने से चीजें बदलेंगी. उन्‍होंने कहा कि मैं जम्‍मू में रहती हूं. पहले वहां कुछ भी नहीं था. वहां के लोगों के पास कोई स्‍कोप नहीं था, लेकिन केंद्र सरकार के इस जायज फैसला लिया है, जम्‍मू-कश्‍मीर का भी विकास होगा. इसके लिए मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को धन्‍यवाद कहना चाहूंगी और मैं इस खुशी के मौके पर वैष्‍णो देवी जाकर माता का आशीर्वाद लूंगी.

जम्‍मू की बेटी अनारा गुप्‍ता ने कहा कि इस फैसले क्या फायदा होगा, यह कोई समझ नहीं पाएगा. यह वही समझ पाएंगे जो वहां रहते हैं. जम्मू और कश्मीर के स्थानीय निवासियों के लिए यह बहुत बड़ी चीज हुई है. मैं जम्‍मू की एक बात बताती हूं कि जम्‍मू में सरकारी नौकरियों से लेकर अन्य चीजों का लाभ वहां रहने वाले हिंदुओं को चौथे नंबर पर मिलता था. वो भी आसानी से नहीं, हमें अपने हकों के लिए लड़ना पड़ता था. लेकिन अब अनुच्छेद 370 हटने के बाद चीजें बदलेंगी और सही मायनों में इक्‍वालिटी होगी. हर चीज फेयर होगा.

अनारा ने जम्मू – कश्मीर और लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनाए जाने के फैसले का भी स्वागत किया और कहा कि मैं जम्मू कश्मीर से ज्यादा लद्दाख के लिए खुश हूं. वैसे आज लद्दाख को देश भर में बहुत कम लोग जानते हैं, क्‍योंकि लद्दाख नक्शे पर एक छोटा सा जगह है. लोग वहां भी रहते हैं. उनकी भी जरूरतें हैं. वहां के लोग पढ़ाई के लिए जम्मू आना पड़ता है. स्वास्थ्य सुविधाएं नहीं हैं. अगर देखा जाए तो लद्दाख किसी गांव से भी पिछड़ा इलाका है.

अनारा ने लद्दाख के सांसद युवा सांसद द्वारा लोकसभा में दिए गए भाषण को अक्षरश: सही बताया. उन्होंने कहा कि 370 हटने और दोनों राज्यों को केंद्र सात केंद्र शासित प्रदेश बनाने के बाद वहां बदलाव की नई कहानी लिखी जाएगी. माता वैष्णो देवी के दर्शन को मैं जल्द ही जाने वाली हूं. मेरा मानना है कि स्वतंत्र भारत, विकसित भारत और एक भारत बिना जम्मू कश्मीर के विकास के कैसे संभव होगा. जम्मू – कश्मीर के विकास में बाधा थी अनुच्छेद 370. उन्होंने बताया कि उनकी मां भाई सभी जम्मू में है और जम्मू में लोग सरकार के इस फैसले से बेहद खुश हैं. सरकार ने भले वहां एहतियातन कर्फ्यू लगाए थे, लेकिन अब कर्फ्यू में ढील दी गई है. मुझे पूरी उम्‍मीद है कि कुछ सालों बाद जम्‍मू – कश्‍मीर की पहचान विकास और सकारात्‍मक चीजों के लिए होगी.

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.