General Desk December 8, 2018

सहतवार(बलिया)। स्थानीय नगर पंचायत में मारपीट में घायल होने के बाद इलाज के दौरान मौत के मुंह में समाए संजय पासवान का शव उनके घर पहुंचा. शव पहुंचते ही जब उसे पड़ोसी ओमप्रकाश पासवान (55) ने देखा तो सदमें से उनकी भी मौत हो गई. मौत से गुस्साए लोगों ने संजय पासवान को मारने वाले आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर अधेड़ का शव रखकर दो जगहों पर सड़क जाम कर दिया.

सहतवार थाना क्षेत्र के वार्ड नम्बर एक में दो दिसम्बर की रात में बच्चों के विवाद में हुई मारपीट में संजय पासवान गम्भीर रूप से घायल हो गए थे. उनका इलाज वाराणसी के एक अस्पताल में चल रहा था. जहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई. संजय का शव शुक्रवार की रात को घर पहुंचा था. शनिवार को सुबह शव देखने पहुंचे पड़ोसी ओप्रकाश पासवान शव देखते ही अचानक गिर कर बेहोश हो गए. आसपास के लोगों ने स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया. दो मौत से आक्रोशित मोहल्ले वासी आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करते हुई सहतवार स्टेशन मार्ग सिनेमाहाल और सहतवार बांसडीह मार्ग पर थाने के सामने जाम लगा दिए. सड़क जाम होने से दोनों तरफ वाहनों की कतार लग गई.

सूचना पाकर मौके पर रेवती, बांसडीह सहित आसपास के थानों की फोर्स व सीओ मौके पर पहुंच गए. सूचना पाकर एएसपी विजय पाल सिंह भी मौके पर पहुंचे और आरोपितों को जल्द गिरफ्तार करने का आश्वासन देते हुए वहां से जाम हटवाए.

Leave a comment.

Your email address will not be published. Required fields are marked*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.